Tuesday, 30 April 2019

Manmohan Modi's Record



🏵 मनमोहन/मोदी का रिकार्ड : -

🏵 Manmohan / Modi's Record  : -



A. Raja -  Jail

Kalmadi - Prison

Kanimozhi - Prison

Ramalinga Raju - Prison

Saharsaree - Prison

Sanjay Chandra - Prison

Vinod Goenka - Prison ...





🤩 And now a record of your pm: -

Fly Away

Vijay Mallya - Fly Away  - Gujarati

Lalit Modi - Fly Away - Gujarati

Sanjay Bhandari - Fly Away - Gujarati

Jatin Mehta - Fly Away  - Gujarati

Small Modi -  Fly Away - Gujarati

Mehul Bhai - Fly Away  - Gujarati

Vigilance - Fly Away - Gujarati



😏 All countries work hard, have fun Fly Away

-------------------------------------------------- -----



Prime Minister - Gujarati

BJP National Chief - Gujarati

RBI Chief - Gujarati

CBI Chief - Gujarati

Chief Justice - Gujarati

All major government contracts - Gujarati

Bank looted money - Gujarati



Anil Ambani - Gujarati

Mukesh Ambani - Gujarati

Gautam Adani - Gujarati



Keep chanting Modi-Modi

Blind fools



Remember one thing ---

"Justice Katju" had said that 90% Indians are fools,

And this is also true ...



The scale of our stupidity is that ...

A man wearing a suit of millions of people says, "I am poor,

And we treat him as poor.



Agencies like CBI, NIA, who are puppets of hands,

That guy is saying ~

That I am being persecuted, and we accept it.



Which is in the absolute majority in Parliament,

There are more than twenty states in the government,

He says ~

I am not allowed to work,

And we agree.



Who gives tickets to people living in jail for corruption,

Again, I am fighting against corruption,

And we agree.



Under whose rule most soldiers have been martyred,

He says the enemy is trembling with us,

And we agree.



At the time most farmers have committed suicide,

And he says we have doubled the income of the farmers,

And we agree.



At which time the educated youth are asked to cast pakora,

And we accept it as employment.



Who has come to power by dreaming of a beautiful future,

And we are moving around in the past four hundred years ago,

And yet we are happy ..



Friends, this is happening only because of our foolishness. ☺

✅Congress got 60 years! BJP 10 years! Manmohan, Chidambaram, Yashwant, Jaswant Sinha, Piyush Goyal, Arun Jaitley etc. were global economists!

He deliberately worked to reduce the country's economy and to exploit industrialists! Congress-BJP got their blessings!

There is no difference between these two! Friends Friends-Identify the enemy!


✍ post by indian public

https://crazy-guru.anxietyattak.com/2019/04/manmohan-modis-record.html

This is a forwarded message.

Forwarded msg

Forwarded as Received

🙏🌹🐘🙏☸🐘🙏🌹🐘🙏

Breaking News 🛑

 बड़ी खबर आरही है पाकिस्तान ने मोदी का पैर पकड़ कर माफी मांगी है और कहा है साध्वी  के श्राप से बचा लीजिएगा।
     साध्वी  के श्राप की जानकारी के बाद अमेरिका में भी हलचल, चीन भी पीछे हटा।
    इस वक्त भारत ताकत के मामले में पूरी दुनिया में नंबर एक पर आगया है क्योंकि अभी तक श्राप वाला बम  भारत के अलावा किसी भी देश में नहीं है।

😂😄😆😂😂🤣😜

: Breaking news.
फ्रांस भारत को मुफ़्त में राफेल देने को तैयार,मगर उसके बदले में "श्राप" वाली तकनीक मांगी है ताकि दुश्मन खड़े  खड़े भस्म हो जाएं.....



















ए.  राजा     -     जेल
कलमाडी    -      जेल
कनिमोझी    -     जेल
रामलिंगा राजू   - जेल
सहाराश्री  -        जेल
संजय चंद्रा  -      जेल
विनोद गोयनका - जेल ...


🤩 ओर अब एक अपने pm का  रिकार्ड : -

विजय माल्या - फुर्र - गुजराती
ललित मोदी  -  फुर्र - गुजराती
संजय भंडारी - फुर्र - गुजराती
जतीन मेहता -  फुर्र - गुजराती
छोटा मोदी   -   फुर्र - गुजराती
मेहुल भाई    -  फुर्र - गुजराती
चौकसी       -   फुर्र - गुजराती

😏 सारा देश मेहनत करें, मजा मारे गुजराती
-------------------------------------------------------

प्रधानमंत्री                      -- गुजराती
भाजपा राष्ट्रीय चीफ        -- गुजराती
RBI चीफ                      -- गुजराती
CBI चीफ                      -- गुजराती
चीफ जस्टिस                  -- गुजराती
सारे बड़े सरकारी ठेके      -- गुजराती
बैंक का पैसा लूट रहे       -- गुजराती

अनिल अंबानी -      गुजराती
मुकेश अम्बानी -.     गुजराती
गौत्तम अडानी  -      गुजराती

जपते रहों  मोदी-मोदी
अंधे  मूर्ख  भक्तों

एक चीज याद रखिए ---
"जस्टिज काटजू" ने कहा था की 90% भारतीय मूर्ख हैं,
और ये बात सच भी है...

हमारी मूर्खता का पैमाना ये है की...
एक आदमी लाखों का सूट-बूट पहनकर कहता है~ की मैं गरीब हूं ,
और हम उसे गरीब मान लेते हैं..

CBI, NIA जैसी एजेंसियां जिस आदमी के हाथों की कठपुतली हैं ,
वह आदमी कह रहा है~
की मुझे सताया जा रहा है, और हम मान लेते हैं..

जो संसद मे पूर्ण बहुमत में है ,
बीस से ज्यादा राज्यों मे सरकार है ,
वह कहता है ~
मुझे काम नही करने दिया जा रहा है ,
और हम मान लेते हैं..

जो भ्रष्टाचार मे जेल में रह चुके लोगों को टिकट देता है ,
फिर कहता है मै भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं ,
और हम मान लेते हैं..

जिसके शासन मे सबसे ज्यादा हमारे सैनिक शहीद हुए हैं ,
वह कहता है दुश्मन हमसे कांप रहा है ,
और हम मान लेते हैं..

जिसके समय में सबसे ज्यादा किसानों ने आत्महत्या की है ,
और वह कहता है हमने किसानों की आय दुगुना कर दी है ,
और हम मान लेते हैं..

जिसके समय में पढे लिखे नौजवानों को पकौड़ा तलने के लिए कहा जाता है ,
और हम उसे रोजगार मान लेते हैं..

जो सुंदर भविष्य का सपना दिखाकर सत्ता मे आया हो ,
और चार सौ साल पहले के भूतकाल में हमे घुमा रहा हो ,
और फिर भी हम खुश हैं..

मित्रों ये सब हमारी मूर्खता की वजह से ही तो हो रहा है.  ☺

✅कांग्रेस को 60 साल मिले!

भाजपा को 10 साल! मनमोहन, चिदंबरम, यशवंत, जसवंत सिन्हा, पियूष गोयल, अरुण जेटली आदि वैश्विक स्तर के अर्थशास्त्री थे!

इन्होने जानबुझकर  देश की अर्थव्यवस्था घटानेका (डुबाने) और उद्योगपतीयोंको फायदा पहुचानेका काम किया!

कांग्रेस-भाजपा इनकी मिली भगत है!

इन दोनों में कोई अंतर नहीं! मित्रो दोस्त-दुश्मन को पहचानो!

https://crazy-guru.anxietyattak.com/2019/04/manmohan-modis-record.html

✍  post by indian public

यह फॉरवर्डेड मेसेज है।

Forwarded msg.
Forwarded as Received
🙏🌹🐘🙏☸🐘🙏🌹🐘🙏
















Modiji's degree is really amazing.

मोदी जी की डिग्री भी वाकई कमाल की है..






Modiji's degree is really amazing.





Modi M A was the first class, and B A was a third class, yet the twelfth fail was ..



And after the eighth, after leaving studies, it is called miracle

1) Even before the first computer in India, Modiji's paper was printed from computer.

2) The font which was developed by Microsoft in 1992, was used by Modi in the year 1979.

3) In whole political science, only Modi has got degree in complete history, and the professors of that university have also heard this subject for the first time.

4) And Sunday has given a degree to Modi ji ..

5) Before giving degree to Modi and after 10 years of giving it to him, the poor employee kept writing his degree with the help of a super computer only for Modi ji.

6) Modi took admission alone and passed the examination alone, when he was underground in the time of the Emergency, perhaps an underground examination room of Delhi University was in Gujarat.


Well

Now you see Modi's 4 years, and 8 months, so far.

Remember

Before voting for your precious election in the upcoming 2019 elections, you must meditate on these things, so that you understand something, even if you do not understand, even if you consider yourself as a true devotee of Modi, then read these things. .


(1) For the first time since the independence of the country, the first gold maid

(2) The price of petrol diesel which was the highest during the reign of the first Prime Minister

(3) The rupee of the country whose economy fell most in the international market, the first prime minister

(4) Note that the first Prime Minister of the country to take 25 years behind the country by arresting the note

(5) Note that in 125 days during the prisoner's arrest 125 Prime Minister of the first Prime Minister

(6) The first prime minister to scam 30 thousand crores of $ 520 million Rafael aircraft for $ 1644 million

(7) In the opposition, FDI, the basis of the GST, the first Prime Minister to implement everything in the wrong way


(8) Modi is the first prime minister in whose reign four senior judges of the Supreme Court made a press release to convey India that democracy is in danger


(9) Modi's shortest written prime minister after Independence


(10) Despite foreign visits to the people of Adani Ambani and her Gujarati businessmen with money from the poor people of the country, no big foreign investment could come in our country.

(11) The first prime minister to buy the entire media from the country's money


(12) In his tenure, the first Prime Minister to put the credibility of independent institutions like RBI and CBI

(13) The first prime minister to put CBI in the booth after the independence and the CBI's credentials


Companions, all this talk is 100% true, neither can you deny it, nor can you avoid it.

Because, all this has happened in front of your eyes.

Never vote on the name of Hindu Muslims, because Hindu Muslims are both safe, there is no danger to anyone, if there is danger then only and only the BJP is at risk.

If you are safe then the country will be safe, for which the wealth of Ambani Adani Ramdev has increased manifold, how much of your income in Modi's rule you have thought of yourself.

Before this election, you will need to write this article once every month because no 500 and 2000 notes will come and you will buy your valuable vote.


Send this post to at least 21 people, all your disturbed work will be done, only then your good days will come.

The rest is because you vote because of your














मोदी जी की डिग्री भी वाकई कमाल की है..


मोदी M A फर्स्ट क्लास थे, और B A थर्ड क्लास थे, फिर भी बारहवीं फेल थे..

और आठवी के बाद पढाई छोड़ चुके थे इसे कहते हैं चमत्कार 

1) भारत मे पहला कंप्यूटर आने से पहले ही मोदीजी की डिग्री कंप्यूटर से प्रिंट हुई थी..

2) जिस फॉन्ट को माइक्रोसॉफ्ट ने 1992 मे विकसित किया था वो मोदी जी को 1979 में ही डिग्री का प्रयोग हो चुका था..

3) इंटाएर पोलिटिकल साइंस मे पूरी दुनिआ मे सिर्फ मोदी जी को डिग्री मिली हुई है, और उस विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों ने भी ये सब्जेक्ट पहली बार सुना है..

4) और संडे को ही मोदी जी को डिग्री दिलवा दी है..

5) मोदी को डिग्री देने के पहले और देने के 10 साल बाद तक बेचारे कर्मचारी हाथ से ही डिग्री लिखते रहे सिर्फ़ मोदी जी के लिए सुपर कंप्यूटर मंगवाया गया था..

6) मोदी जी ने अकेले एडमिशन लिया और अकेले ही एग्जाम दिया, इमरजेंसी के टाइम मे जब वो भूमिगत थे, शायद Delhi यूनिवर्सिटी का एक भूमिगत एग्जाम रूम गुजरात मे थे..

खैर

अब आप मोदी के 4 साल, और 8 महिने का, अबतक का कार्यकाल देखिये..👇

याद रहे

2019 के आनेवाले चुनाव में अपनी कीमती मतदान करने से पहले इन बातों पर अवश्य चिंतन-मनन करें, ताकि आपको कुछ समझ मे आये, अगर नही समझ मे आये तो भी आप अपने आपको मोदी का सच्चा भक्त समझते हैं तो इन बातों को अवश्य पढ़िए..

(1) देश की आज़ादी के बाद पहली बार सराफा बाज़ार 43 दिनों तक बन्द करवाने वाले पहले प़घानमत्री

(2) पेट्रोल डीज़ल के दाम जिसके शासन काल मे सबसे अधिक रहे ऐसे पहले प्रधान मंत्री

(३) देश का रूपया जिसके शासन काल मे अंतराष्ट्रीय बाज़ार मे सबसे ज्यादा गिरा ऐसे पहले प्रधानमंत्री

(4) नोट बन्दी करके देश को  25 वर्ष पीछे करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री

(5) नोट बन्दी के दौरान 50 दिन मे 125 झुठ बोलने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री

(6) 520 मिलियन डालर का राफ़ेल विमान 1644 मिलियन डॉलर मे ख़रीदने वाले 30 हज़ार करोड़ का घोटाला करने वाले पहले प्रधानमंत्री

(7)  विपक्ष मे रहकर FDI , आधार ,GST का विरोघ करने वाले सत्ता आते ही ग़लत तरीक़े से हर चीज़ लागु करने वाले पहले प्रधानमंत्री

(8) मोदी ऐसे पहले प्रधानमंत्री है जिनके शासनकाल मे सुप्रीम कोर्ट के  चार वरिष्ठ न्यायाधीशों ने प्रेस वार्ता करके भारत को अवगत कराया कि, लोकतंत्र ख़तरे में है

(9) मोदी अाजादी के बाद सबसे कम पढे लिखे प्रधानमंत्री 

(10) देश की गरीब जनता के पैसों से अडानी अंबानी और अपने गुजराती उद्योगपति भाइयों को विदेशी दौरे करवाये फिर भी कोई बड़ा विदेशी निवेश हमारे देश में नहीं आ सका

(11) देश के पैसों से पूरी मीडिया को खरीदने वाले पहले प्रधानमंत्री 

(12) अपने कार्यकाल में आरबीआई और सीबीआई जैसी स्वतंत्र संस्थाओं की साख दांव पर लगाने वाले सबसे पहले प्रधानमंत्री

(13) आजादी के बाद सीबीआई को कटघरे में खड़ा करवाने वाले और सीबीआई की साख को बट्टा लगवाने वाले पहले प्रधानमंत्री

साथियों, यह सारी बाते 100% सत्य हैं, ना तो आप इसे नकार सकते हो, और ना ही इसे टाल सकते हो.. 

क्योंकि, यह सब कुछ आपकी नज़रों के सामने ही हुआ है..

हिन्दू मुस्लिम के नाम पर कभी भी वोट मत देना, क्योंकि, हिन्दू मुस्लिम दोनों सुरक्षित है, किसी को कोई खतरा नही है , अगर खतरा है तो सिर्फ और सिर्फ भाजपा को ही खतरा है..

अगर आप सुरक्षित रहेगा तो देश सुरक्षित रहेगा, इनके वजसे अम्बानी अडानी रामदेव की आमदनी कई गुना बढ गई है, मोदी के शासन मे आपकी आमदनी कितनी बढ़ी आप स्वयं सोचे..

चुनाव आने से पहले इस लेख को हर महीने में एक बार अवश्य पड़े, क्योंकि कोई 500 व 2000 का नोट लेखर आयेगा और आपका कीमती वोट ख़रीदेगा..

https://crazy-guru.anxietyattak.com/2019/04/modijis-degree-is-really-amazing.html

इस पोस्ट को कम से कम 21 लोगों को भेजे, आपके सारे बिगड़े हुए काम बन जाएंगे, तभी तो आपके अच्छे दिन आयेंगे..

बाकि  मर्जी  है  आपका क्योंकि  वोट है  आपका

Saturday, 27 April 2019

Fisherman

एक मछुआरा था। उसे प्रसिद्धि पाने का बड़ा शौक था। उसने एक योजना बनाई।
There sas a Fisherman. It was a fondness for fame.

He made a plan.



From his place of residence, he came in a village far away, where people in the pond had a fear of crocodiles .


                 In that village, he made a big eyebrow that the fish catch no crocodile! The people of the village started giving great fervor to the fisherman's courage! All the stray boys in the village became his devotees !!



                Whichever elderly child woman meets, the fisherman starts reciting her bravery stories. People would be charmed



                The year went on for two or four years. So far no one had seen him catching crocodiles with his eyes. The people of the village now started whispering that it seems that this fish could not even catch ... except for the crocodile!



                 Soon this discussion started happening on every street of the village, every nook.



                The fisherman was waiting for his respect. One day he quietly went to the market and bought from there many bigger traps of strong thread. He fed his spoonful devotees and said, put together a trap in all the ponds of the village, the fisherman in the village is going to live a live show of catching the crocodile.



                  The other day the excited people gathered to see his show. Glory started to cheer around!



He stood on a high mound and addressed the people-



Bro and Sis ...



                   Today I will catch all the crocodiles in the pond together. Because crocodiles run away from a pond to another pond, therefore, we have put together a trap in all the ponds.



He called upon the villagers to see it is a very strong work. The work of villageless is to do. All of you help in trapping in rural areas.



                  People were glad to get caught in the trap. He continued to collect the fish trapped in the trap and collect them. Within two or three days the fish were stacked but not even a crocodile came up.



The patience of the people started to answer now. People would ask when the crocodile ...?

She then stood on a high mound and said-



Bro and Sis...



                  The basic issue is not that I caught the crocodile or caught it. The basic issue is that the crocodile should die or should not be?

Devotee should be, should be, should be, should be.



He said, I have caught all the fish in the pond. Now when the fish will not remain then the crocodile will eat? And when food is not available then he himself will die!



Listening to this, her tambour devotee said,



Wow guru ji ...!

Wow guru ji ... !!

What is the masterstroke struck ...

Nobody thought that!

Fisherman further said-

Bro and Sis ...



                 The collected money will be deposited in the village market by dividing the captured fish at a higher price in the city market. And he sent all the fish to the city.

The general public was disturbed. All the work was done in the work of 'gramhit' except for business. Some people have become addicted to food. Some drowned in the pond in exuberance Now there was no fish in the pond, so their employment was also scraped.



But her devotees were still happy.



There were some sacrifices in the village!



Then one day he picked up a fisherman and went somewhere.



There was no work of villageless, no crocodile caught and no fish was left, therefore the villagers no longer understand what to do, the devotee is so silent



Because Jai cheer, he started only. The villagers are so silent that whatever is done can never be compensated.



🙏🙏🌹🌹🙏🙏


















एक मछुआरा था। उसे प्रसिद्धि पाने का बड़ा शौक था। उसने एक योजना बनाई।

अपने निवास स्थान से सुदूर एक गाँव में आकर रहने लगा, जहाँ के लोगों में तालाब के मगरमच्छो का खौफ था।

                 उस गाँव में उसने अपना बड़ा भौकाल बनाया कि वो मछली नही मगरमच्छ पकड़ता है! गाँव के लोग मछुआरे की हिम्मत की बड़ी दाद देने लगे! गाँव के सारे आवारा लड़के उसके भक्त बन गए!!

                बड़े बुजुर्ग बच्चे औरत जो भी मिलता, मछुआरा उनको अपने बहादुरी के किस्से सुनाना शुरू कर देता। लोग मंत्रमुग्ध हो जाते।

                साल दो चार साल यूँ ही चलता रहा। अब तक किसी ने भी अपनी आँखों से उसे मगरमच्छ पकड़ते न देखा था। गाँव के लोग अब कानाफूसी करने लगे कि लगता है ये मछली भी नही पकड़ पाता... मगरमच्छ की तो बात छोडो!

                 जल्द ही ये चर्चा गाँव की हर गली, हर नुक्कड़ पर होने लगी।

                मछुआरे को अपनी इज़्ज़त की वाट लगती दिखी। एक दिन वो चुपचाप मार्केट गया और वहां से मजबूत धागे वाले कई बड़े बड़े जाल खरीद लाया। अपने चमचे भक्तो को उसने खिलाया पिलाया और कहा जाओ गाँव के सभी तालाबों में एक साथ जाल डालो, गाँव में डुगडुगी पिटवा दो की मछुआरा मगरमच्छ पकड़ने का लाइव शो करने वाला है।

                  दूसरे दिन उत्साहित लोग उसका शो देखने इकठ्ठा हो गए। चारो तरफ जय जयकार होने लगी!

एक ऊँचे टीले पर खड़े होकर उसने लोगों को संबोधित किया-

बाइयों और बेनो... 

                   आज मैं तालाब के सारे मगरमच्छों को एक साथ पकडूँगा। चूँकि मगरमच्छ एक तालाब से दूसरे तालाब में भाग जाता है इसलिए सभी तालाबों में एक साथ जाल डलवाया हूँ।

उसने ग्रामवासियों से आह्वान किया देखिये ये अतिपुनीत कार्य है। ग्रामहित का कार्य है। आप सभी लोग ग्रामहित में जाल खिंचवाने में मदद कीजिये।

                  लोग खुशी-खुशी जाल खींचने में जुट गए। वो जाल में फंसी मछलियों को निकलवाकर इकठ्ठा करवाता रहा। दो तीन दिन में ही मछलियों का ढेर लग गया पर एक भी मगरमच्छ पकड़ न आया।

लोगों का सब्र अब जबाब देने लगा था। लोग पूछने लगे कब पकड़ोगे मगरमच्छ...?
वो फिर ऊँचे वाले टीले पर खड़ा हुआ और बोला-

बाइयों और बेनो... 

                  मूल मुद्दा ये नही कि मैंने मगरमच्छ पकड़ा या नही पकड़ा। मूल मुद्दा ये है कि मगरमच्छ की मौत होनी चाहिए कि नहीं होनी चाहिए??
भक्तगण- होनी चाहिए, होनी चाहिए, होनी चाहिए।

वो बोला देखो, मैंने तालाब की सारी मछलियां पकड़वा ली है। अब जब मछली ही नही रहेगी तो मगरमच्छ खायेगा क्या? और जब खाने को नही मिलेगा तो वो खुद ही मर जायेगा!

ये बात सुनकर उसके चमचे भक्त जयजयकार करते बोले-

वाह गुरु जी...!
वाह गुरु जी...!!
क्या मास्टरस्ट्रोक मारा है...
ऐसा तो किसी ने सोचा ही नही था!

Read more .......

https://crazy-guru.anxietyattak.com/2019/04/fisherman.html

मछुआरा आगे बोला-

बाइयों और बेनो ...

                 ये पकड़ी हुयी मछलियां को शहर की मार्केट में ऊँचे दाम पर बेंचकर प्राप्त धन को ग्रामहित में लगा दिया जायेगा। और उसने सब मछलियां शहर भिजवा दी।
उधर आम जनता परेशान थी। सब काम धंधा छोड़कर 'ग्रामहित' के कार्य में लगी थी। कुछ के घर खाने के लाले पड़ गए। कुछ अतिउत्साह में तालाब में डूब गए।

अब तालाब में मछलिया भी न थी, सो उनका रोजगार भी छिन गया।

लेकिन उसके भक्त अब भी खुश थे।

कह रहे थे अब ग्रामहित में कुछ बलिदान तो करना ही होगा!

फिर एक एकदिन वो मछुवारा झोला उठाकर कहीं चल दिया।

न ग्रामहित का कोई काम हुआ, न मगरमच्छ पकड़े गए और न मछलियां बाकि बची थी इसलिए ग्रामवासियों को अब समझ नहीं आ रहा कि क्या करें,
भक्त इसलिए चुप है 

क्योंकि जय जयकार तो उन्होंने ही शुरू कि थी। ग्रामवासी इसलिए चुप हैं कि जो हो गया उसकी भरपाई कभी नहीं हो सकती है। 

🙏🙏🌹🌹🙏🙏

#JetAirways से बेरोजगार हुए 20 हज़ार कर्मचारी अपने नाम के आगे चौकीदार लगा लें।