Monday, 14 January 2019

Farmers will have debt waiver and how to Application MP Kisan Loan Maafi

#मध्यप्रदेश: किन #किसानों की होगी कर्जमाफी और कैसे लगाएं अर्जी, जानिए सब कुछ....


# Madhya Pradesh: Which # farmers will have debt waiver and how to apply application, know everything ....

The full picture of farmer's debt waiver has come out in Madhya Pradesh. Loans up to Rs 2 lakh will be waived and those farmers who have deposited some part of the loan or loan till December 11, 2019, will also get the benefit of the loan waiver.

Which loans from the banks will be waived

1. Cooperative
2. Regional Rural Bank
3. Nationalized Bank

But the debts of the farmers will be forgiven

1. On March 31, 2018, farmers who have crop loan on bank accounts will be forgiven.
2. The farmers who have paid outstanding or partial repayment of outstanding loan on March 31, 2018, will also be forgiven.
3. Loans taken after April 1, 2007 which have not been repaid by March 31, 2018 or banks who have declared NPA
4. They will also get the benefit of which loan has been completed or partially by March 12. Meaning the debt that has been paid will be returned to them.

👉 Who will come into the debt bracket

1. Crop Loans
2. Small crop loan given as per the definition of Reserve Bank and NABARD
3. Loan from the District Level Committee for Agriculture Crop

👉If the loan has been repaid then these certificates will be required

1. Crop Loan Discharge Certificate
2. Debt Redemption Certificate issued to the farmer by the sign of the bank manager
3. Farmer's Resignation Letter
4. Honorary letter given to farmers paying regular loans

But the loan of farmers will be forgiven

1. Farmers of Madhya Pradesh, whose land is in the state
2. The bank borrowed from the branch should be in Madhya Pradesh
3. Loan from the Farm Co-operative Society
4. Restructured loans due to crop damage

I will not be forgiven in this loan

1. Loans provided by companies or corporate
2. Farm credit given by Farmer's Society
3. Loan from Farmer Producer Institution
4. Debt taken against gold mortgages

👉 How will the debt forgiveness

1. The amount will be deposited directly into the farmers' account
2. Farmer's Aadhar number must be in the crop loan account
3. The farmers who have no Aadhaar number in the crop loan account will get an opportunity to add
4. The farmer's loan credit account will be credited to his waiver loan.
5. Small and very small farmers will get priority

👉Bank order priority rank

Co-operative bank
2. Regional bank
3. Nationalized Bank

I will not get the benefit

1. Existing and former MPs
2. Existing and former legislators
3. Existing and former District Panchayat, Municipality, Nagar Panchayat President
4. Existing and former mayors
5. Chairman of the existing and former Agricultural Produce Market
6. Existing and former Chairman of Co-operative Banks
7. State Government corporation, board or board chairman and vice president
8. People who pay income tax
9. All the officers of the Government of India and Madhya Pradesh (except the fourth class)
10. Retired government employees receiving pension over Rs.15,000 / month
11. Registrar of registered firm at GST, owner, partner
12. Ex-servicemen will continue the exemption even after the pension

👉 Process of debt forgiveness

1. Prepare MP-online portal for debt waiver.
2. The management of the portal will see farmers' welfare and agriculture department.
3. Under the leadership of the District Collector, every Panchayat level will form a list of eligible farmers for waiving loan.
4. Meaning of colors in the application of debt waiver
5. Green Applications - Aadhaar linked card accounts
6. White-color application- No base linked loan account
7. After publishing the list of debt waiver, the panchayats will get green and white forms.
8. Pink Farm - Farmer List

की Important dates of debt forgiveness

1. To be installed in the concerned bank branch till 15th January and also will be put in the portal
2. January 26 will be given information about green, white and pink form in the Gram Sabha meeting
3. Farmers not able to apply till January 26, will be given another chance to deposit in Gram Panchayat by 5th February 2019
4. The loan account base linked link between January 15 and February 5 will not be linked to the base.
5. Off-line applications will be put in the portal till January 26, 2019
6. The farmers not connected to the loan base, they will have to go to the bank and go to the base.
7. The farmers who do not link to the Aadhar card will not get the loan waiver.
8. If the land is within the purview of the Gram Panchayat, the application will be deposited in Panchayat and in the city if there is land in the city body.

साथ What to submit with the application letter

1. Photo copy of Aadhar card
2. Public or Regional Rural Bank, then photocopy of the first page of the loan account passbook
3. Loan is taken from co-operative bank or agricultural committee, then no need for loan account passbook
4. If the land comes in several panchayats, the application will be deposited in the panchayat where he is in his house.

👉 How to know the casinos
1. The information will inform the farmers as soon as the information is uploaded.
2. The photocopies of the application filled in the portal will also be given to the farmer.
3. The farmers who have not given the Aadhar card or loan account number will have different time.
4. The amount of the loan will be notified in the farmer's account and will be notified by SMS.
5. After the payment the farmers will be given a loan exemption certificate.

Payments : 

Join  Google Pay, a payments app by Google. Enter our Code ( 59wc92 
and then make a payment. We'll each get ₹51!

Click here



Enter   Code  59wc92




#मध्यप्रदेश: किन #किसानों की होगी कर्जमाफी और कैसे लगाएं अर्जी, जानिए सब कुछ....


मध्यप्रदेश में किसान कर्जमाफी का पूरा खाका सामने आ गया है. दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ होगा और जिन किसानों में 11 दिसंबर 2019 तक पूरा या कर्ज का कुछ हिस्सा जमा कर दिया है उनको भी कर्जमाफी का फायदा मिलेग

👉किस किस बैंकों से लिया कर्ज माफ होगा

1. सहकारी
2. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
3. राष्ट्रीयकृत बैंक

👉किन किसानों के कर्ज माफ होंगे

1. 31 मार्च 2018 तक बैंकों के खातों में जिन किसानों पर फसल कर्ज होगा वो माफ हो जाएगा
2. जिन किसानों ने 31 मार्च 2018 को बकाए कर्ज का 12 दिसंबर 2018 तक पूरा या आंशिक चुका दिया है तो वो भी माफ हो जाएगा
3. 1 अप्रैल 2007 के बाद लिए गए कर्ज जो 31 मार्च 2018 तक नहीं चुकाए गए या बैंकों ने जिन्हें एनपीए घोषित कर दिया हो
4. उनको भी फायदा मिलेगा जिन्होंने 12 मार्च तक लोन पूरा या आंशिक तौर पर चुका दिया है. मतलब जो कर्ज अदा किया गया है वो उनको वापस कर दिया जाएगा.

👉कौन कौन से कर्ज दायरे में आएंगे

1. फसल ऋण
2. रिजर्व बैंक और नाबार्ड की परिभाषा के मुताबिक दिया गया छोटा फसल ऋण
3. कृषि फसल के लिए जिला स्तरीय समिति की तरफ से दिया गया कर्ज

👉अगर लोन चुका दिया गया है तो इन सर्टिफिकेट की जरूरत होगी

1. फसल ऋण मुक्ति प्रमाणपत्र
2. बैंक मैनेजर के दस्तखत से किसान को जारी किया गया ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र
3. किसान सम्मान पत्र
4. नियमित कर्ज चुकाने वाले किसानों को दिया जाने वाला सम्मान पत्र

👉किन किसानों का लोन माफ होगा

1. मध्यप्रदेश के किसान, जिनकी जमीन राज्य में है
2. जिस बैंक से कर्ज लिया गया वो ब्रांच मध्यप्रदेश में होनी चाहिए
3. कृषि सहकारी समिति की तरफ से मिले कर्ज
4. फसल नुकसान की वजह से रीस्ट्रक्चर किए गए कर्ज

👉इन कर्ज में माफी नहीं मिलेगी

1. कंपनियों या कॉरपोरेट की तरफ से दिए गए कर्ज
2. किसान सोसाइटी की तरफ से दिए फसल कर्ज
3. किसान प्रोड्यूसर संस्था से दिया गया कर्ज
4. सोना गिरवी रखकर लिया गया कर्ज

👉कर्ज माफी कैसे होगी

1. किसानों के खाते में सीधे रकम डाली जाएगी
2. फसल ऋण खाते में किसानों का आधार नंबर होना जरूरी है
3. जिन किसानों के फसल ऋण खाते में आधार नंबर नहीं है उसे जोड़ने का मौका मिलेगा
4. किसानों के फसल ऋण खाते में उनके माफ कर्ज की रकम जमा करा दी जाएगी.
5. छोटे और बहुत छोटे किसानों को प्राथमिकता मिलेगी

👉बैंकों का प्राथमिकता क्रम

1. सहकारी बैंक
2. क्षेत्रीय बैंक
3. राष्ट्रीयकृत बैंक

👉फायदा नहीं मिलेगा

1. मौजूदा और पूर्व सांसद
2. मौजूदा और पूर्व विधायक
3. मौजूदा और पूर्व जिला पंचायत, नगरपालिका, नगर पंचायत अध्यक्ष
4. मौजूदा और पूर्व महापौर
5. मौजूदा और पूर्व कृषि उपज मंडी अध्यक्ष
6. सहकारी बैंकों के मौजूदा और पूर्व अध्यक्ष
7. राज्य सरकार के निगम, मंडल या बोर्ड के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
8. इनकम टैक्स देने वाले लोग
9. भारत और मध्यप्रदेश सरकार के सभी अधिकारी (चतुर्थ क्लास छोड़कर)
10. 15,000 रुपए महीने से ज्यादा पेंशन पाने वाले रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी
11. जीएसटी में रजिस्टर्ड फर्म के डायरेक्टर, मालिक, पार्टनर
12. भूतपूर्व सैनिकों को पेंशन के बाद भी छूट जारी रहेगी

👉कर्जमाफी की प्रक्रिया

1. कर्जमाफी के लिए MP-online पोर्टल तैयार करेगी.
2. पोर्टल का मैनेजमेंट किसान कल्याण और एग्रीकल्चर विभाग देखेगा
3. जिला कलेक्टर की अगुआई में हर पंचायत स्तर कर्जमाफी के लिए पात्र किसानों की लिस्ट बनेगी
4. कर्जमाफी के आवेदन में रंगों का मतलब
5. हरे रंग के आवेदन- आधार कार्ड से जुड़े कर्ज खाते
6. सफेद रंग के आवेदन- आधार नहीं जुड़े कर्ज खाते
7. कर्ज माफी की लिस्ट प्रकाशित होने के बाद पंचायतों में हरे और सफेद फार्म मिलेंगे
8. गुलाबी फार्म- किसान लिस्ट के बारे में अपनी आपत्ति दर्ज कराने वाला फार्म

👉कर्जमाफी की अहम तारीखें

1. 15 जनवरी तक संबंधित बैंक ब्रांच में लगाई जाए और पोर्टल में भी डाली जाएगी
2. 26 जनवरी को ग्रामसभा की बैठक में हरे, सफेद और गुलाबी फार्म की जानकारी दी जाएगी
3. 26 जनवरी तक अर्जी नहीं दे पाने वाले किसानों को 5 फरवरी 2019 तक ग्राम पंचायत में जमा करने का एक और मौका दिया जाएगा
4. 15 जनवरी से 5 फरवरी के बीच ऐसे ऋण खाते आधार लिंक कराए जा सकेंगे जो आधार से नहीं जुड़े.
5. ऑफ लाइन आवेदनों को 26 जनवरी 2019 तक पोर्टल में डाल दिया जाएगा
6. जिन किसानों के कर्ज आधार से नहीं जुड़े उन्हें बैंक जाकर आधार से जुड़वाना होगा.
7. जो किसान आधार कार्ड से कर्ज लिंक नहीं कराएंगे उनको कर्जमाफी नहीं मिलेगी.
8. अगर जमीन ग्राम पंचायत के दायरे में है तो अर्जी पंचायत में और शहर में जमीन है तो नगरीय निकाय के दफ्तर में जमा होगी

👉आवेदन पत्र के साथ क्या क्या जमा करें

1. आधार कार्ड की फोटो कॉपी
2. सरकारी या क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक है तो ऋण खाता पासबुक का पहले पन्ने की फोटोकॉपी
3. सहकारी बैंक या कृषि समिति से लोन लिया गया है तो ऋण खाता पासबुक की जरूरत नहीं
4. जमीन अगर कई पंचायतों में आती है तो जिस पंचायत में उसका घर है वहां अर्जी जमा होगी.

👉किसानों को कैसे पता चलेगा
1. जानकारी अपलोड होते ही किसानों को sms से सूचित करेगी
2. पोर्टल में भरे गए आवेदन की फोटो कॉपी भी किसान को दी जाएगी.
3. जिन किसानों ने आधार कार्ड या ऋण खाते का नंबर नहीं दिया है उनके अलग से वक्त मिलेगा.
4. कर्ज की रकम किसान के खाते में डालते ही उन्हें sms से सूचित किया जाएगा
5. भुगतान के बाद किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाणपत्र भी दिया जाएगा ।


Pilot's Career GuideStep by Step Learn How to Become an International Airline Pilot

Author Name: Capt Shekhar Gupta  | Format: Paperback | Genre : Technology & Engineering
Delivered in 7-10 business days
 




See this image


Guaranteed delivery 





#मध्यप्रदेश: किन #किसानों की होगी कर्जमाफी और कैसे लगाएं अर्जी, जानिए सब कुछ....

मध्यप्रदेश में किसान कर्जमाफी का पूरा खाका सामने आ गया है. दो लाख रुपए तक का कर्ज माफ होगा और जिन किसानों में 11 दिसंबर 2019 तक पूरा या कर्ज का कुछ हिस्सा जमा कर दिया है उनको भी कर्जमाफी का फायदा मिलेग

👉किस किस बैंकों से लिया कर्ज माफ होगा

1. सहकारी
2. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक
3. राष्ट्रीयकृत बैंक

👉किन किसानों के कर्ज माफ होंगे

1. 31 मार्च 2018 तक बैंकों के खातों में जिन किसानों पर फसल कर्ज होगा वो माफ हो जाएगा
2. जिन किसानों ने 31 मार्च 2018 को बकाए कर्ज का 12 दिसंबर 2018 तक पूरा या आंशिक चुका दिया है तो वो भी माफ हो जाएगा
3. 1 अप्रैल 2007 के बाद लिए गए कर्ज जो 31 मार्च 2018 तक नहीं चुकाए गए या बैंकों ने जिन्हें एनपीए घोषित कर दिया हो
4. उनको भी फायदा मिलेगा जिन्होंने 12 मार्च तक लोन पूरा या आंशिक तौर पर चुका दिया है. मतलब जो कर्ज अदा किया गया है वो उनको वापस कर दिया जाएगा.

👉कौन कौन से कर्ज दायरे में आएंगे

1. फसल ऋण
2. रिजर्व बैंक और नाबार्ड की परिभाषा के मुताबिक दिया गया छोटा फसल ऋण
3. कृषि फसल के लिए जिला स्तरीय समिति की तरफ से दिया गया कर्ज

👉अगर लोन चुका दिया गया है तो इन सर्टिफिकेट की जरूरत होगी

1. फसल ऋण मुक्ति प्रमाणपत्र
2. बैंक मैनेजर के दस्तखत से किसान को जारी किया गया ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र
3. किसान सम्मान पत्र
4. नियमित कर्ज चुकाने वाले किसानों को दिया जाने वाला सम्मान पत्र

👉किन किसानों का लोन माफ होगा

1. मध्यप्रदेश के किसान, जिनकी जमीन राज्य में है
2. जिस बैंक से कर्ज लिया गया वो ब्रांच मध्यप्रदेश में होनी चाहिए
3. कृषि सहकारी समिति की तरफ से मिले कर्ज
4. फसल नुकसान की वजह से रीस्ट्रक्चर किए गए कर्ज

👉इन कर्ज में माफी नहीं मिलेगी

1. कंपनियों या कॉरपोरेट की तरफ से दिए गए कर्ज
2. किसान सोसाइटी की तरफ से दिए फसल कर्ज
3. किसान प्रोड्यूसर संस्था से दिया गया कर्ज
4. सोना गिरवी रखकर लिया गया कर्ज

👉कर्ज माफी कैसे होगी

1. किसानों के खाते में सीधे रकम डाली जाएगी
2. फसल ऋण खाते में किसानों का आधार नंबर होना जरूरी है
3. जिन किसानों के फसल ऋण खाते में आधार नंबर नहीं है उसे जोड़ने का मौका मिलेगा
4. किसानों के फसल ऋण खाते में उनके माफ कर्ज की रकम जमा करा दी जाएगी.
5. छोटे और बहुत छोटे किसानों को प्राथमिकता मिलेगी

👉बैंकों का प्राथमिकता क्रम

1. सहकारी बैंक
2. क्षेत्रीय बैंक
3. राष्ट्रीयकृत बैंक

👉फायदा नहीं मिलेगा

1. मौजूदा और पूर्व सांसद
2. मौजूदा और पूर्व विधायक
3. मौजूदा और पूर्व जिला पंचायत, नगरपालिका, नगर पंचायत अध्यक्ष
4. मौजूदा और पूर्व महापौर
5. मौजूदा और पूर्व कृषि उपज मंडी अध्यक्ष
6. सहकारी बैंकों के मौजूदा और पूर्व अध्यक्ष
7. राज्य सरकार के निगम, मंडल या बोर्ड के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष
8. इनकम टैक्स देने वाले लोग
9. भारत और मध्यप्रदेश सरकार के सभी अधिकारी (चतुर्थ क्लास छोड़कर)
10. 15,000 रुपए महीने से ज्यादा पेंशन पाने वाले रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी
11. जीएसटी में रजिस्टर्ड फर्म के डायरेक्टर, मालिक, पार्टनर
12. भूतपूर्व सैनिकों को पेंशन के बाद भी छूट जारी रहेगी

👉कर्जमाफी की प्रक्रिया

1. कर्जमाफी के लिए MP-online पोर्टल तैयार करेगी.
2. पोर्टल का मैनेजमेंट किसान कल्याण और एग्रीकल्चर विभाग देखेगा
3. जिला कलेक्टर की अगुआई में हर पंचायत स्तर कर्जमाफी के लिए पात्र किसानों की लिस्ट बनेगी
4. कर्जमाफी के आवेदन में रंगों का मतलब
5. हरे रंग के आवेदन- आधार कार्ड से जुड़े कर्ज खाते
6. सफेद रंग के आवेदन- आधार नहीं जुड़े कर्ज खाते
7. कर्ज माफी की लिस्ट प्रकाशित होने के बाद पंचायतों में हरे और सफेद फार्म मिलेंगे
8. गुलाबी फार्म- किसान लिस्ट के बारे में अपनी आपत्ति दर्ज कराने वाला फार्म

👉कर्जमाफी की अहम तारीखें

1. 15 जनवरी तक संबंधित बैंक ब्रांच में लगाई जाए और पोर्टल में भी डाली जाएगी
2. 26 जनवरी को ग्रामसभा की बैठक में हरे, सफेद और गुलाबी फार्म की जानकारी दी जाएगी
3. 26 जनवरी तक अर्जी नहीं दे पाने वाले किसानों को 5 फरवरी 2019 तक ग्राम पंचायत में जमा करने का एक और मौका दिया जाएगा
4. 15 जनवरी से 5 फरवरी के बीच ऐसे ऋण खाते आधार लिंक कराए जा सकेंगे जो आधार से नहीं जुड़े.
5. ऑफ लाइन आवेदनों को 26 जनवरी 2019 तक पोर्टल में डाल दिया जाएगा
6. जिन किसानों के कर्ज आधार से नहीं जुड़े उन्हें बैंक जाकर आधार से जुड़वाना होगा.
7. जो किसान आधार कार्ड से कर्ज लिंक नहीं कराएंगे उनको कर्जमाफी नहीं मिलेगी.
8. अगर जमीन ग्राम पंचायत के दायरे में है तो अर्जी पंचायत में और शहर में जमीन है तो नगरीय निकाय के दफ्तर में जमा होगी

👉आवेदन पत्र के साथ क्या क्या जमा करें

1. आधार कार्ड की फोटो कॉपी
2. सरकारी या क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक है तो ऋण खाता पासबुक का पहले पन्ने की फोटोकॉपी
3. सहकारी बैंक या कृषि समिति से लोन लिया गया है तो ऋण खाता पासबुक की जरूरत नहीं
4. जमीन अगर कई पंचायतों में आती है तो जिस पंचायत में उसका घर है वहां अर्जी जमा होगी.

👉किसानों को कैसे पता चलेगा
1. जानकारी अपलोड होते ही किसानों को sms से सूचित करेगी
2. पोर्टल में भरे गए आवेदन की फोटो कॉपी भी किसान को दी जाएगी.
3. जिन किसानों ने आधार कार्ड या ऋण खाते का नंबर नहीं दिया है उनके अलग से वक्त मिलेगा.
4. कर्ज की रकम किसान के खाते में डालते ही उन्हें sms से सूचित किया जाएगा
5. भुगतान के बाद किसानों को ऋण मुक्ति प्रमाणपत्र भी दिया जाएगा ।

Sunday, 13 January 2019

Happiness एक महिला की आदत थी, कि वह हर रोज सोने से पहले, अपनी दिन भर की खुशियों को एक काग़ज़ पर, लिख लिया करती थीं

एक महिला की आदत थी, कि वह हर रोज सोने से पहले, अपनी दिन भर की खुशियों को एक काग़ज़ पर, लिख लिया  करती थीं.... एक रात उन्होंने लिखा :


🌹 One woman,  used to write every Night  the happiness of her Full Day on a paper before sleeping .... One night she wrote:

🌹 I am happy that my husband snoring all night, sniffing. Because he is alive, and I have it. This is God, thank you ..

🌹 I am happy that my son quarrels in the morning all the time, that mosquitoes do not sleep overnight. That is, he passes home at night, does not roam Thank God.

🌹 I am happy that every month electricity, gas, gasoline, water and so on have to pay a lot. That is, all these things are with me, in my use. If it were not, how hard was life? Thank God.

🌹 I am happy that, till the end of the day, I get tired of fatigue. That is the strength and courage to work hard in me throughout the day, only with God's Mehr ..

🌹 I am happy that every day a broom has to be wiped, and the door-to-doors have to be cleaned. Thankfully, I have a home. What will happen to those who do not have a roof? God, thank you ..

🌹 I am happy, sometimes sometime I get sick. That is, I remain mostly healthy people. God, thank you ..

🌹 I am happy that, every year, gifts are offered to the festivals, purses are empty. That is, I want my loved ones, relatives, friends, myself, who can give gifts. If it is not, then life is so fierce ..?
God, thank you ..

🌹 I am happy that every day I get up on the sound of the alarm. That is, it is destined to see me every day, a new morning.
This is also God's Karam ..


Applying this form of living, you should make the life of yourself and your people relaxed.

Even in small or bigger problems, seek happiness, in any case, thanking that god, making life happier .., !!!!


🌹      एक महिला की आदत थी, कि वह हर रोज सोने से पहले, अपनी दिन भर की खुशियों को एक काग़ज़ पर, लिख लिया  करती थीं.... एक रात उन्होंने लिखा :
🌹    मैं खुश हूं, कि मेरा पति पूरी रात, ज़ोरदार खर्राटे लेता है. क्योंकि वह ज़िंदा है, और मेरे पास है. ये ईश्वर का, शुक्र है..
🌹    मैं खुश हूं, कि मेरा बेटा सुबह सबेरे इस बात पर झगड़ा करता है, कि रात भर मच्छर - खटमल सोने नहीं देते. यानी वह रात घर पर गुज़रता है, आवारागर्दी नहीं करता. ईश्वर का शुक्र है..
🌹     मैं खुश हूं, कि, हर महीना बिजली, गैस,  पेट्रोल, पानी वगैरह का, अच्छा खासा टैक्स देना पड़ता है. यानी ये सब चीजें मेरे पास, मेरे इस्तेमाल में हैं. अगर यह ना होती, तो ज़िन्दगी कितनी मुश्किल होती ? ईश्वर का शुक्र है..
🌹    मैं खुश हूं, कि दिन ख़त्म होने तक, मेरा थकान से बुरा हाल हो जाता है. यानी मेरे अंदर दिन भर सख़्त काम करने की ताक़त और हिम्मत, सिर्फ ईश्वर की मेहर से है..
🌹    मैं खुश हूं, कि हर रोज अपने घर का झाड़ू पोछा करना पड़ता है, और दरवाज़े -खिड़कियों को साफ करना पड़ता है. शुक्र है, मेरे पास घर तो है. जिनके पास छत नहीं, उनका क्या हाल होता होगा ? ईश्वर का, शुक्र है..
🌹     मैं खुश हूं, कि कभी कभार, थोड़ी बीमार हो जाती हूँ. यानी मैं ज़्यादातर सेहतमंद ही रहती हूं. ईश्वर का, शुक्र है..
🌹    मैं खुश हूं, कि हर साल त्यौहारो पर तोहफ़े देने में, पर्स ख़ाली हो जाता है. यानी मेरे पास चाहने वाले, मेरे अज़ीज़, रिश्तेदार, दोस्त, अपने हैं, जिन्हें तोहफ़ा दे सकूं. अगर ये ना हों, तो ज़िन्दगी कितनी बेरौनक हो..? ईश्वर का, शुक्र है..
🌹    मैं खुश हूं, कि हर रोज अलार्म की आवाज़ पर, उठ जाती हूँ. यानी मुझे हर रोज़, एक नई सुबह देखना नसीब होती है. ये भी, ईश्वर का ही करम है..

🌹     जीने के इस फॉर्मूले पर अमल करते हुए, अपनी और अपने लोगों की ज़िंदगी, सुकून की बनानी चाहिए. छोटी या बड़ी परेशानियों में भी, खुशियों की तलाश करिए, हर हाल में, उस ईश्वर का शुक्रिया कर, जिंदगी खुशगवार बनाए..,!!!!




Join  Google Pay, a payments app by Google. Enter our Code ( 59wc92 
and then make a payment. We'll each get ₹51!

Click here



Enter   Code  59wc92










Pilot's Career GuideStep by Step Learn How to Become an International Airline Pilot

Author Name: Capt Shekhar Gupta 




Pilot's Career Guide

by Capt Shekhar Gupta and Niriha Khajanchi | 1 January 2017
Get it by Monday, April 29
FREE Delivery by Amazon

All Best Career Guide

by Capt Shekhar Gupta and Shina Kalra | 1 January 2019
Get it by Monday, April 29
FREE Delivery by Amazon

Cabin Crew Career Guide, Path to Success

by Pragati Srivastava and Capt. Shekhar Gupta | 1 January 2018
Get it by Monday, April 29
FREE Delivery by Amazon