Tuesday, 5 May 2020

Share to Care Read and Share

अच्छे से समझ लीजिए कम से कम 6 - 9  महीना बहुत सावधानी की जरूरत है।
https://bit.ly/3b76mWI

1
सैलून में बाल दाढ़ी बिल्कुल नही बनवाना है, जाना ही नही है उधर।

2
ब्यूटी पार्लर भूल जाइए।

3
किसी भी शादी विवाह में जाना भूल जाइए।

4
किसी भी ऐसी जगह नही जाएं जहाँ 4 से ज्यादा लोग हों। अगर जाना ही पड़े तो मास्क पहनें, और कम से कम किसी से भी 6 फिट की दूरी रखें।

5
रेल, बस, टेम्पो की यात्रा भूल जाइए। जाना पड़े तो मास्क पहन कर, 6 फुट दूरी के नियम के साथ।

6
नोट रेजकी छू कर साबुन से अच्छे से हाँथ धोएँ।

7
सब्जी, फल कच्चा बिल्कुल नही। सलाद भूल जाइए। बाज़ार से कोई भी कटा फल नही लाएं।

8
बाज़ार में कुछ भी खाना बिल्कुल बन्द। घर का बना रोटी सब्जी साथ रखना सीख लीजिये।

9
किसी भी प्रकार के जुलूस में बिल्कुल नही जाएं।

10
हाँथ मिलाना, गले मिलना बिल्कुल बन्द। दूर से नमस्ते।

11
किसी का मोबाइल छुएँ भी नही।

आपकी बहुत चिंता है। अपना बहुत बहुत खयाल रखिये। प्रकृति एक नई दुनिया का निर्माण कर रही है। आइये खुशी खुशी इसका स्वागत करें। सावधानी की जरूरत है। भयभीत होने की कोई जरूरत नहीं।

*कृपया इसे नोट कर लें और अपने सभी परिचितों को भेजें.....🙏🙏🙏


कृपया ध्यान दीजिए

सरकार एक निश्चित समय तक हीं lockdown रख सकती है । धीरे धीरे lockdown खत्म हो जाएगा । सरकार भी इतनी सख्ती नहीं दिखाएगी क्योंकि 
सरकार ने आपको कोरोना बीमारी के बारे में अवगत करा दिया है, सोशल डिस्टैंसिंग, हैण्ड सेनिटाइजेशन इत्यादि सब समझा दिया है । बीमार होने के बाद की स्थिति भी आप लोग देश में देख हीं रहे हैं । 

अब जो समझदार है वह आगे लंबे समय तक अपनी दिनचर्या, काम करने का तरीका समझ लें । 

सरकार 24 घंटे  365 दिन आपकी चौकीदारी नहीं करेगी और न कर सकेगी ।

इलाज भी अपने खर्च से कराना होगा। निजी चिकित्सक आपका इलाज करेगा अथवा आपसे डरेगा?

सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि इसकी दवा नही है


आपके एवं आपके परिवार का भविष्य आपके हाथ में है । 

लाॅकडाउन खुलने के बाद सोच समझ कर घर से निकलें एवं काम पर जायें व नियत नियमानुसार हीं अपना कार्य करें ।

क्या लगता है आपको, 17 मई के बाद एकाएक कोरोना चला जायेगा, हम पहले की तरह जीवन जीने लगेंगे ?

नहीं, कदापि नहीं ।

ये वायरस अब हमारे देश में जड़ें जमा चुका है,हमें इसके साथ रहना सीखना पड़ेगा।

कैसे ?

सरकार कब तक लॉकडाउन रखेगी ? कब तक बाहर निकलने में पाबंदी रहेगी ?

अब हमें स्वयं इस वायरस से लड़ना पड़ेगा, अपनी जीवन शैली में बदलाव करके, अपनी इम्युनिटी स्ट्रांग करके ।

हमें सैकड़ों साल पुरानी जीवन शैली अपनानी पड़ेगी ।

शुद्ध आहार लें, शुद्ध मसाले खाएं । आंवला, एलोवेरा, गिलोय, काली मिर्च, लौंग आदि पर निर्भर हों । 

एन्टी बाइटिक्स के चंगुल से खुद को आज़ाद करें ।

अपने भोजन में पौष्टिक आहार की मात्रा बढ़ानी होगी, फ़ास्ट फ़ूड, पिज़्ज़ा , बर्गर, कोल्ड्रिंक की भूल जाएं ।

अपने बर्तनों को बदलना होगा, अल्युमिनियम, स्टील आदि से हमें भारी बर्तन जैसे पीतल, कांसा, तांबा को अपनाना होगा जो प्राकर्तिक रूप से वायरस को भी खत्म करते हैं ।

अपने आहार में दूध, दही, घी की मात्रा बढ़ानी होगी ।

भूल जाइए जीभ का स्वाद, तला-भुना मसालेदार, होटल वाला कचरा ।

कम से कम अगले 7-8  महीनों तक तो ये करना हीं पड़ेगा । तभी हम सरवाइव कर पाएंगे ।

और जो नहीं बदलेंगे वो मुश्किल मे पड़ जाएंगे ।

इस बात को मान कर इन पर अमल करना शुरू कर दें ।
.
.
.

जिंदगी आपकी फैसला आपका






No comments:

Post a comment