Monday, 14 September 2020

He came out without a helmet.

 बिना ‌हैलमैट के ‌सङक पर निकल आया।

थोङी दूर जाते ही एक पुलिस ‌वाले ने‌ पकङ लिया।

लगा चालान काटने।

He came out without a helmet.

As soon as he left, a policeman grabbed him.


Feeling invoice cut.


The case was settled for Rs. 50 on flattery.




Then I noticed that there are intersections ahead.


Caught somewhere else then.




Sepoy ji se ‌puchha to bole‌‌ ki aage‌ koi roke


So speaking, juice has been drunk at the last intersection.




Stopped at two or three intersections ...


I spoke every time ... I drank juice at the back intersection.


Left everywhere.




Coincidentally, three or four days later, he left without a helmet.




The thought formula is known.




Will walk




Like the police stopped the car at the first intersection ...


I said chic --- I drank juice at the back intersection.




The policeman laughed out loud.


And said - caught,




Today's code is Lassi,  My Son.




😂😂😂😂

 बिना ‌हैलमैट के ‌सङक पर निकल आया।

थोङी दूर जाते ही एक पुलिस ‌वाले ने‌ पकङ लिया। a


बहुत‌ खुशामद करने ‌पर‌ 50 रुपये में मामला‌ सुलझा ।

फिर मुझे ध्यान आया‌ कि आगे‌ भी‌ तो चौराहे हैं।

कहीं और पकड़ा गया तब।

https://crazy-guru.anxietyattak.com/2020/09/he-came-out-without-helmet.html

सिपाही जी से ‌पूछा तो बोले‌‌ कि आगे‌ कोई रोके 

तो बोल‌ देना पिछले चौराहे पर जूस पिला‌‌ दिया है।


आगे दो तीन चौराहों‌ पर रोका गया... 

मै हर बार बोला... पीछे चौराहे पर जूस पिला दिया है।

हर जगह छोड़ दिया गया।


इत्तफाक से तीन चार दिन‌ बाद‌ फिर बिना ‌हेल्मेट के‌ निकल गया।


सोचा फार्मूला तो मालूम ही है।


चल जाएगा।


जैसे ‌ही पहले चौराहे ‌पर पुलिस ने गाड़ी रोकी‌... 

मैनै ठाठ से कहा---पीछे चौराहे पर जूस‌ पिला दिया है। 


पुलिस वाला‌ जोर से हंसा। 

और बोला - पकड़े गये, 


आज का कोड लस्सी है बेटा ।


😂😂😂😂




No comments:

Post a comment