Tuesday, 16 April 2019

Learn to say “NO” Smartly "NO" कहना सीखें

"NO"  कहना सीखें  
By  Preeti Tanwar
Learn to say “NO” Smartly

Sometimes we hard press ourselves in our routine affairs in spite of strong reluctance from our heart. Out of responsibility or for other’s happiness we do certain things halfheartedly. Dragging ourselves forcefully into some task gradually saps our energy. Many times we commit to do certain things out of duty or love, but when that burden starts annoying us we start blaming the person behind his back for all the discomforts and portray ourselves so helpless.
“Do it if you commit it”
“Don’t  commit it if you don’t do it”
It is commendable to do the things for the sake of other’s happiness but not at the cost of our values, beliefs and peace of mind. Learn to say “NO” if people start crossing your defined set of threshold. Generally people hesitate in directly saying “NO”. Here are few examples and smart ways to say “NO” in an alternative manner.
1.       “NO” to office work load :  Many employees get exhilarated when they are offered extra work from their boss. They accept it for higher pays, extra money and fast promotions so that they can splurge a bit on themselves, do party, shopping or outing etc. But some employees prefer to maintain healthy work-life balance and want to spend quality time with their family, friends, devote time to hobbies or for other commitments. It’s quite difficult for them to accept extra work load on daily basis. But, when boss demands to work over time, they feel hesitation in directly saying “NO”. Try these alternatives.

·         If your boss wants to bunch you up with extra work you may say politely you are already full and you don’t want to sacrifice quality.
·         If your boss asks you to stay late, ask clearly about the deadlines and turnaround time. Discuss about the urgency of work with your boss immediately. Propose if arriving a bit early to the work next day will do.
·         If persistently you are staying late in the office for a very demanding project and getting extra pay checks for the same, but additional working hours are exhausting you a lot then you can ask for coming late in the day, different working hours or limited working hours once a day per week in accordance with the project team’s need to negate the extra working hours. That ways you can get some relaxing hours to rejuvenate yourself and time for family/friends.
·         If your boss expects you to work from home after normal working hours for a particular client requirement for some time, propose a solution to your boss saying I’ll be glad to take on extra work if I’ll be able to maintain a healthy work-life balance by taking off some free time from normal working hours .You can consider taking early break off from office in the evening or starting late in the morning so that you can relax and spend time with family/friends. That ways your boss will get a message that you support the organization in urgent requirements yet believe in maintaining healthy work life balance.
·           If you’re an exempt level employee( not eligible for overtime pay  as per Labor Standards Act)  but your boss pile you up with huge work that can’t be finished in normal working hours and you have to stay late on daily basis and work on weekends regularly. Prepare a well planned list of tasks you usually complete in office after normal working hours. Schedule a meeting with your boss and genuinely say, “I am overworked”. Please check my list and plan my work so that it can get accommodated in normal working hours.

2.       No”  when people ask for favour :
·         Delay your response by saying, “I’ll get back to you”. By that time you will be able to prepare yourself to say “NO” with high confidence.
·         Use polite phrases like “Thanks for asking me but it’s not convenient for me right now” or “I’m sorry but I’m busy this evening” or  “I have some other family commitment”.

3.       “No” to family/Spouse:  Don’t do the things half heartedly just for the sake of family. Either convince your mind thoroughly that you are willingly doing it bearing all the consequences with no blame game accepted or else just don’t do it. “Don’t do it” option is sometimes unavailable. In that case you can consider taking extra help from your maid because sometimes peace of mind is more important than money.

4.       “No” to your kids : Kids are attention seekers. Let them realise you could also be busy sometimes and don’t feel guilty in saying “NO” or “Wait for sometime”  when they ask you for something. That’s how they’ll learn patience and self-control.

5.       “NO” to smoking, alcohol and drugs:  Drinking and smoking has become a huge fashion these days.  It’s one of the favourite means to pass time for people in parties and celebrations. People do it to look cool, to have fun, to forget problems or to make business deals. People compel non-drinkers so strongly that they find it so difficult to refuse. Try out these methods.
·         Once someone asked me “Being from Delhi you don’t drink. I replied you are not from Delhi still you drink”.
·         Most courageous is straight forward – I don’t drink and adhere it to it in spite of all hard insistence.
·         I have got an early start in the morning.
·         I’m allergic.
·         I’m on medication.
·         I have to drive.

6.       Refuse not ignore : Generally people feel guilty after saying “NO” and starts ignoring the person in shame. Your right to refuse is as at par with their right to ask for favour.








BigBasket.com

Use PhonePe for instant bank transfers & more! Get a scratch card up to 
₹1000 on your first money transfer on 
#PhonePe. 
Use the link -


Join  Google Pay, a payments app by Google.
Enter our Code :   59wc92
and then Get a payment.
Click here
https://g.co/payinvite/59wc92
Enter   Code  59wc92





https://www.amazon.in/s?i=stripbooks&rh=p_27%3ACapt+Shekhar+Gupta&ref=dp_byline_sr_book_1


Pilot's Career Guide
by Capt Shekhar Gupta and Niriha Khajanchi | 1 January 2017
4.0 out of 5 stars5
Cabin Crew Career Guide, Path to Success
by Pragati Srivastava and Capt. Shekhar Gupta | 1 January 2018
5.0 out of 5 stars3
All Best Career Guide
by Capt Shekhar Gupta and Shina Kalra | 1 January 2019
5.0 out of 5 stars1













Learn to say “NO” Smartly\

"NO"  कहना सीखें



कभी-कभी हम अपने दिल से मजबूत अनिच्छा के बावजूद अपने नियमित मामलों में खुद को मुश्किल से दबाते हैं। जिम्मेदारी से बाहर या अन्य खुशी के लिए हम कुछ चीजें आधे-अधूरे तरीके से करते हैं। किसी काम में खुद को जबरदस्ती खींचना धीरे-धीरे हमारी ऊर्जा को बहा देता है। कई बार हम कुछ चीजें ड्यूटी या प्यार से करने के लिए करते हैं, लेकिन जब वह बोझ हमें परेशान करने लगता है तो हम उस व्यक्ति को उसकी पीठ के पीछे सारी असुविधाओं के लिए दोषी ठहराना शुरू कर देते हैं और खुद को इतना असहाय समझ लेते हैं।

"यदि आप इसे करते हैं, तो इसे करें"

यदि आप ऐसा नहीं करते हैं, तो "यह मत करो"

दूसरे की खुशी के लिए चीजों को करना सराहनीय है, लेकिन हमारे मूल्यों, विश्वासों और मन की शांति की कीमत पर नहीं। "NO" कहना सीखें यदि लोग आपके निर्धारित सीमा को पार करना शुरू कर दें। आम तौर पर लोग सीधे "ना" कहने में संकोच करते हैं। वैकल्पिक तरीके से "NO" कहने के लिए कुछ उदाहरण और स्मार्ट तरीके हैं।

1. "ए" कार्यालय के काम के बोझ के लिए: कई कर्मचारियों को उनके मालिक से अतिरिक्त काम की पेशकश करने पर उत्साह मिलता है। वे इसे उच्च भुगतान, अतिरिक्त धन और तेजी से पदोन्नति के लिए स्वीकार करते हैं ताकि वे खुद पर थोड़ा सा प्रभाव डाल सकें, पार्टी, खरीदारी या सैर आदि कर सकें, लेकिन कुछ कर्मचारी स्वस्थ जीवन-संतुलन बनाए रखना पसंद करते हैं और अपने परिवार के साथ गुणवत्तापूर्ण समय बिताना चाहते हैं। , दोस्तों, शौक के लिए या अन्य प्रतिबद्धताओं के लिए समय समर्पित करें। दैनिक आधार पर अतिरिक्त कार्य भार स्वीकार करना उनके लिए काफी कठिन है। लेकिन, जब बॉस समय के साथ काम करने की मांग करते हैं, तो उन्हें सीधे "NO" कहने में हिचकिचाहट महसूस होती है। इन विकल्पों का प्रयास करें।



यदि आपका बॉस आपको अतिरिक्त काम के साथ चिढ़ाना चाहता है, तो आप विनम्रता से कह सकते हैं कि आप पहले से ही भरे हुए हैं और आप गुणवत्ता का त्याग नहीं करना चाहते हैं।

· यदि आपका बॉस आपको देर से रुकने के लिए कहता है, तो समय सीमा और बदलाव के समय के बारे में स्पष्ट रूप से पूछें। अपने बॉस के साथ काम की तात्कालिकता के बारे में तुरंत चर्चा करें। अगले दिन काम के लिए थोड़ा जल्दी पहुंचने का प्रस्ताव करेंगे।

· यदि आप लगातार एक बहुत ही मांग की परियोजना के लिए कार्यालय में देर से रह रहे हैं और उसी के लिए अतिरिक्त वेतन चेक प्राप्त कर रहे हैं, लेकिन अतिरिक्त काम के घंटे आपको बहुत थका रहे हैं तो आप दिन में देर से आने के लिए कह सकते हैं, अलग-अलग काम के घंटे या सीमित काम प्रति सप्ताह एक बार प्रति दिन एक घंटे में प्रोजेक्ट टीम की आवश्यकता के अनुसार अतिरिक्त काम के घंटे को नकारना होगा। इस तरीके से आप परिवार और दोस्तों के लिए खुद को फिर से जीवंत करने के लिए कुछ आराम के घंटे पा सकते हैं।

· यदि आपका बॉस आपसे कुछ समय के लिए किसी विशेष ग्राहक की आवश्यकता के लिए सामान्य काम के घंटों के बाद घर से काम करने की उम्मीद करता है, तो अपने बॉस को यह कहते हुए समाधान का प्रस्ताव दें कि अगर मैं स्वस्थ रह पाऊंगा तो मुझे अतिरिक्त काम करने में खुशी होगी। सामान्य कामकाजी घंटों से कुछ खाली समय निकालकर कार्य-जीवन का संतुलन। आप शाम को कार्यालय से जल्दी छुट्टी लेने या सुबह देर से शुरू करने पर विचार कर सकते हैं ताकि आप आराम कर सकें और परिवार / दोस्तों के साथ समय बिता सकें। इस तरह से आपके बॉस को एक संदेश मिलेगा कि आप तत्काल आवश्यकताओं में संगठन का समर्थन करते हैं, फिर भी स्वस्थ कार्य जीवन संतुलन बनाए रखने में विश्वास करते हैं।

यदि आप एक छूट स्तर के कर्मचारी हैं (श्रम मानकों के अनुसार ओवरटाइम भुगतान के लिए पात्र नहीं हैं), लेकिन आपका बॉस आपको भारी काम देता है, जो सामान्य काम के घंटों में समाप्त नहीं हो सकता है और आपको दैनिक आधार पर देर तक रहना होगा सप्ताहांत पर नियमित रूप से काम करें। उन कार्यों की एक अच्छी तरह से योजनाबद्ध सूची तैयार करें जिन्हें आप सामान्य कार्य घंटों के बाद कार्यालय में पूरा करते हैं। अपने बॉस के साथ एक मीटिंग शेड्यूल करें और वास्तव में कहें, "मैं ओवरवर्क हो गया हूं"। कृपया मेरी सूची देखें और मेरे काम की योजना बनाएं ताकि यह सामान्य कामकाजी घंटों में समायोजित हो सके।



2. "नहीं" जब लोग एहसान माँगते हैं:

· "मैं आपसे वापस मिलूंगा" कहकर अपनी प्रतिक्रिया दें। उस समय तक आप उच्च आत्मविश्वास के साथ "NO" कहने के लिए खुद को तैयार कर पाएंगे।

· "मुझे पूछने के लिए धन्यवाद, लेकिन यह अभी मेरे लिए सुविधाजनक नहीं है" या "मुझे खेद है, लेकिन मैं इस शाम को व्यस्त हूं" या "मेरे पास कुछ अन्य पारिवारिक प्रतिबद्धता है" जैसे विनम्र वाक्यांशों का उपयोग करें।



3. "नहीं" परिवार / जीवनसाथी के लिए: केवल परिवार की खातिर चीजों को आधे मन से न करें। या तो अपने दिमाग को अच्छी तरह से समझाएं कि आप स्वेच्छा से यह स्वीकार कर रहे हैं कि बिना किसी दोष के खेल के साथ सभी परिणाम भुगतने होंगे या फिर सिर्फ यह मत करो। "यह मत करो" विकल्प कभी-कभी अनुपलब्ध होता है। उस मामले में आप अपनी नौकरानी से अतिरिक्त मदद लेने पर विचार कर सकते हैं क्योंकि कभी-कभी धन की तुलना में मन की शांति अधिक महत्वपूर्ण होती है।



4. अपने बच्चों के लिए "नहीं": बच्चे ध्यान साधक हैं। उन्हें एहसास दिलाएं कि आप भी कभी-कभी व्यस्त हो सकते हैं और जब वे आपसे कुछ मांगते हैं तो "NO" या "कुछ समय तक प्रतीक्षा करें" कहने में दोषी महसूस नहीं करते। यही कारण है कि वे धैर्य और आत्म-नियंत्रण सीखते हैं।



धूम्रपान, शराब और ड्रग्स के लिए "ए": पीने और धूम्रपान इन दिनों एक बहुत बड़ा फैशन बन गया है। पार्टियों और समारोहों में लोगों के लिए समय बिताने का यह पसंदीदा साधन है। लोग इसे शांत दिखने, मस्ती करने, समस्याओं को भूलने या व्यावसायिक सौदे करने के लिए करते हैं। लोग गैर-पीने वालों को इतनी दृढ़ता से मजबूर करते हैं कि उन्हें मना करना मुश्किल लगता है। इन तरीकों को आजमाएं।

No comments:

Post a comment